चार्ट - डबल टॉप और डबल बॉटम

FX Author Jeffrey Cammack द्वारा Author Information अपडेटेड: 24 09 19

चार्ट – डबल टॉप और डबल बॉटम की ट्रेडिंग सरल और बहुत लाभदायक हो सकती है। ऐसा करने के लिए आपको अपने व्यापार शस्त्रागार में सिर्फ कुछ औजारों की आवश्यकता है और यह हर टाइम फ्रेम में काम करता है।

डबल टॉप और डबल बॉटम दोनों ही आसन्न ट्रेंड रिवर्सल (रुझानों के उलटने) के संकेत हैं और खरीदारी/ बिकवाली के सुस्त पड़ जाने के भी। मूल्य चार्ट पर इन पैटर्न की निशानदेही करना बहुत आसान है।

डबल टॉप और डबल बॉटम क्यों कारगर हैं?

किसी भी प्राइस पैटर्न के पीछे के मनोविज्ञान को समझना आपको उस विशिष्ट पैटर्न की ट्रेडिंग में अधिक आत्मविश्वास देगा। डबल टॉप और डबल बॉटम ट्रेडिंग में मनोविज्ञान का उपयोग करते हैं, क्योंकि आप देख सकते हैं कि अन्य व्यापारी किस भावनात्मक और वित्तीय तकलीफ में होते हैं।

डबल टॉप और डबल बॉटम काम करता है, क्योंकि कोई ट्रेड अंजाम देने से पहले व्यापारी इस सबूत की प्रतीक्षा करते हैं कि एक समर्थन या प्रतिरोध स्तर (support or resistance level) बन चुका है। डबल टॉप या डबल बॉटम पैटर्न के बनने के बाद, यह हर किसी के लिए अधिक स्पष्ट हो जाता है कि एक सपोर्ट या रेजिस्टेंस लेवल बन गया है, और इस प्रकार वे अपनी व्यापार पूंजी को एक ट्रेड में लगाने के इच्छुक हैं।

डबल बॉटम पैटर्न क्या है?

एक डबल बॉटम एक तेजी वाली वापसी का पैटर्न (bullish reversal pattern) है जो एक महत्वपूर्ण सपोर्ट लेवल के आसपास विकसित होता है। यह पैटर्न आपको एक नई बुलिश ट्रेंड की शुरुआत को पहचानने में मदद करेगा। यह पैटर्न अक्सर होता है, इसे पहचानना आसान है, और यह सभी करेंसी पेयर में देखा जाता है।

डबल बॉटम पैटर्न एक डाउनट्रेंड (downtrend) के साथ शुरू होता है जो एक निचला स्तर बनाता है। लेकिन कीमतें तब ऊपर की ओर बढ़ती हैं, जो पहला बॉटम बनाती है। वापसी के बाद, कीमत फिर नीचे की ओर जाती है, और पहले बॉटम को छूती है, करीब-करीब उसी कीमत स्तर पर या पहले बॉटम से 2-4 पिप्स के भीतर।

डबल बॉटम पैटर्न की ट्रेड कैसे करें?

जैसे ही रेजिस्टेंस या पुलबैक टूटता हैं, एक लंबा व्यापार ट्रिगर होता है। यदि रेजिस्टेंस पैटर्न के ऊपर कीमत टूटती है, जैसा कि आम चार्ट पैटर्न में होता है, तो एक पुराना रेजिस्टेंस लेवल जो टूट गया था, वह नया सपोर्ट लेवल बन जाता है और कीमतों के ऊँचा उछलने की उम्मीद की जाती है।

आम तौर पर डबल बॉटम के नीचे एक सुरक्षात्मक स्टॉप लॉस रखा जाता है। एक वैध डबल बॉटम पैटर्न की पुष्टि के लिए, मिम्नतम बॉटम और रेजिस्टेंस लेवल का अंतर कम से कम 10% होना चाहिए।

डबल टॉप पैटर्न क्या है?

एक डबल टॉप एक मंदी का उलट पैटर्न (bearish reversal pattern) है, जो ऊपर की ओर एक मजबूत उछाल के बाद बनता है। यह लगभग एक ही कीमत पर लगातार दो चोटियों के रूप में दिखाई देता है। यह पैटर्न आपको एक नई मंदी के ट्रेंड की शुरुआत को पहचानने में मदद करेगा।

इस पैटर्न की पुष्टि करने वाला पहला सेट डबल टॉप से ​​पहले स्थापित एक बुलिश ट्रेंड है। यह महत्वपूर्ण है वरना दूसरी सूरत में डबल टॉप शायद एक फैलते हुए बाजार में दो बराबर की ऊंचाई वाले शिखर भी हो सकते हैं। इसके अलावा, डबल टॉप पैटर्न एक रिवर्सल पैटर्न है, जिसका अर्थ है कि इसमें रिवर्स करने की पहले की प्रवृत्ति होनी चाहिए।

दूसरी आवश्यकता है, एक सपोर्ट लेवल को बनाने के लिए हमें एक पुलबैक के बाद एक चोटी की आवश्यकता है।

अन्त में, पहले रिट्रेसमेंट (retracement) के बाद, हमें पहली चोटी (peak) तक वापसी दिखनी चाहिए करीब-करीब उसी कीमत स्तर पर या पहले बॉटम से 2-4 पिप्स के भीतर। इससे पहले कि यह पूर्व निचले स्तर की कीमत स्तर पर फिर से प्रतिक्रिया करे।

डबल टॉप पैटर्न की ट्रेड कैसे करें?

जैसे ही हम सपोर्ट लेवल को तोड़ते हैं या पुलबैक होता है, एक शार्ट ट्रेड को ट्रिगर किया जाना चाहिए। इसे सिर्फ तभी करें जब सपोर्ट लेवल टूट चुका हो और डबल टॉप पैटर्न की पुष्टि की गई है। आम तौर पर डबल टॉप पैटर्न से ठीक ऊपर एक सुरक्षात्मक स्टॉप लॉस ऑर्डर रख दिया जाता है।

निष्कर्ष

डबल टॉप और डबल बॉटम पैटर्न ट्रेड करने लायक सबसे प्रभावी रिवर्सल पैटर्न हैं, और मूल्य चार्ट पर उन्हें बहुत आसानी से पहचान लिया जाता है। वे अक्सर दिखाई देते हैं। इनमें सिर्फ उचित व्यापार संदर्भ में फिट होने वालों में ही कारोबार करना बुद्धिमानी होती है।

रिस्क-रिवॉर्ड रेशियो के अर्थों में डबल टॉप और डबल बॉटम पैटर्न आपको कारोबार के शानदार अवसर उपलब्ध कराएँगे। यह सुनिश्चित करेगा कि आपके नुकसान हमेशा आपके फायदे से छोटे हों।

फॉरेक्स और CFD की ट्रेडिंग सभी निवेशकों के लिए उपयुक्त नहीं होती है और लीवरेज के कारण तेजी से पैसा गंवाने का हाई रिस्क लिए होती है। 75-90% रिटेल इन्वेस्टर इन प्रोडक्ट में ट्रेडिंग करते हुए पैसा गंवाते हैं। आपको यह तय करना चाहिए कि क्या आप समझते हैं कि CFD ट्रेडिंग कैसे काम करती है और क्या आप पैसा गंवाने का भारी जोखिम उठाने की स्थिति में हैं।
>