फोरेक्स मार्केट कब खुलता है?

विदेशी मुद्रा बाजार हफ़्ते में 5 दिन 24 घंटे खुला रहता है। थाई के ट्रेड के लिए सबसे अच्छा समय लंदन सेशन और न्यूयॉर्क सेशन की शुरुआत का समय होता है। इन सत्रों के दौरान मिलने वाले न्यूज़ और अन्य कारोबारी गतिविधियाँ बाजार में जबरदस्त उठा-पटक का कारण बनती हैं, और ढेर सारे ट्रेडिंग अवसरों का रास्ता खोल देती हैं।

विदेशी मुद्रा बाजार आज कब खुलता है?

फोरेक्स मार्केट प्रत्येक रविवार को 22:00 GMT पर इस हफ्ते के लिए खुलता है। फोरेक्स मार्केट में सबसे ज्यादा अस्थिरता उस समय रहती है जब दुनिया भर के शेयर बाजार खुले रहते हैं। इस तरह जब यूरोपीय बाजार खुले होते हैं, तो यूरो करेंसी पेयर में सबसे ज्यादा उठा-पटक रहेगी। और जब न्यूयॉर्क मार्केट खुलता है, तो प्रमुख करेंसी पेयर सबसे ज्यादा वॉलेटाइल रहेंगे।

फोरेक्स मार्केट क्या बंद होते हैं?

फोरेक्स मार्केट हर हफ़्ते शुक्रवार को GMT 22:00 पर बंद हो जाता है।

बाजार खुलने के समय

क्षेत्रशहरखुलने का समय (GMT)बंद होने का समय (GMT)
यूरोपलंदन8:00 am5:00 pm
फ्रैंकफूर्ट7:00 am4:00 pm
अमेरिकान्यू यॉर्क1:00 pm10:00 pm
शिकागो2:00 pm11:00 pm
एशियाटोक्योmidnight9:00 am
हॉन्ग कॉग1:00 am10:00 am
पैसिफिकसिडनी10:00 pm7:00 am
वेलिंग्टन10:00 pm6:00 am

क्या फोरेक्स मार्केट वीकेंड में खुले या बंद रहते हैं?

फोरेक्स मार्केट वीकेंड में बंद रहते हैं। अगर आपका ट्रेड रात भर या वीकेंड में खुले रहते हैं, तो TomNext Adjustments को समझें।

ट्रेडिंग मार्केट के खुलने पर

बाजार के खुलते समय स्कैल्पिंग के शानदार अवसर होते है, लेकिन जिसकी सबसे बेहतरीन तैयारी हो, वही इन छोटी गतिविधियों का पूरा फायदा उठा सकता है। स्कैल्पिंग में दिलचस्पी रखने वालों को PitView की जांच करनी चाहिए, क्योंकि यह टूल बहुत पावरफुल हो सकता है। इस ओर से भी आश्वस्त हो लीजिये कि आप ऐसे फोरेक्स ब्रोकर से जुड़े हैं, जिसकी ट्रेडिंग शर्तावाली इसे लाभदायक बनाने के लिए है।

शेयर बाज़ार कब बंद होते हैं?

नीचे दुनिया भर के शेयर बाजारों की एक सूची है, जिसमें उनके बंद होने का समय बताया गया है। हर कोई प्रमुख मुद्राओं में ट्रेड नहीं करता, इसलिए अगर आप एक्जोटिक पेयर में कारोबार करते हैं, तो यह सूची आपको बड़े काम की लगेगी। बात जब एक्जोटिक पेयर की हो, तो मैं किसी को भी घरेलु बाजार के बंद होने के दौरान किसी करेंसी की ट्रेड करने की सलाह नहीं देता। यह बाते USD, EUR और GBP जैसी प्रमुख मुद्राओं पर लागू नहीं होती।

घरेलू बाजार के बंद होने पर इन एक्जोटिक मुद्राओं के व्यापार से बचना ही सबसे अच्छा है। विशेष रूप से यदि आप कम समय के अंतराल पर कारोबार करते हैं। ऐसा इसलिए है अगर कोई वोलेटिलिटी न हो तो बाजार कुछ स्थिर रुझान वाले दायरे में रहेगा।

इस नियम का सिर्फ एक अपवाद है। वह स्थिति है, जब ट्रेडर carry trade  में स्वैप के जरिये पैसा बनाते हैं, जब वे मुद्राओं के बीच ब्याग दर में मौजूद अन्तर से मुनाफा कमाते हैं। ZAR और AUD मुद्राएं कैरी ट्रेड के लिए अच्छी मुद्रायें हैं।

  • नैसडैक (NASDAQ): 4:00 Eastern Standard Time
  • न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज (NYSE): 4:00 Eastern Standard Time
  • नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया (NSE) 3:30pm India Standard Time
  • जोहान्सबर्ग स्टॉक एक्सचेंज (JSE): 5pm Central African Time
  • लंदन स्टॉक एक्सचेंज (LSE): 4:30pm Greenwich Mean Time
  • स्विस एक्सचेंज (SIX): 5:30pm Central European Time
  • ओस्लो स्टॉक एक्सचेंज (OSE): 5:30pm Central European Time
  • स्टॉकहोम स्टॉक एक्सचेंज (OMX): 5:30pm Central European Time
  • फ्रैंकफर्ट स्टॉक एक्सचेंज (FSX): 10pm Central European Time
  • ऑस्ट्रेलियन सिक्योरिटीज एक्सचेंज (ASX): 4:12pm Australian Eastern Standard Time
  • टोक्यो स्टॉक एक्सचेंज (TSE): 3pm Japan Standard Time
  • हांगकांग स्टॉक एक्सचेंज (HKEX): 4pm Hong Kong Time
  • नाइजीरियन स्टॉक एक्सचेंज (NSE): 4pm West African Time

यह जानना अहम है, कि कुछ सबसे बड़े मार्केट कब खुलते और बंद होते हैं। जब वे खुलते हैं, उस समय इन बाजारों में ट्रेडिंग करना बढ़िया अवसर पैदा कर सकता है। हाई वोलेटिलिटी यानी भारी उठा-पटक के बीच ज्यादा ट्रेड होती है, और इसलिए यह प्रॉफिट के ज्यादा अवसर देती है।

Trading Forex and CFDs is not suitable for all investors and comes with a high risk of losing money rapidly due to leverage. 75-90% of retail investors lose money trading these products. You should consider whether you understand how CFDs work and whether you can afford to take the high risk of losing your money.
+ +