भारत में विदेशी मुद्रा (फोरेक्स) कारोबार

आप भारत में विदेशी मुद्रा की ऑनलाइन ट्रेड करना चाहते हैं? FX Scouts  ने विदेशी मुद्रा कारोबार शुरू करने वालों के सवालों का जवाब दिया है। ऑनलाइन उपलब्ध विदेशी मुद्रा ब्रोकरों की हम ईमानदार और संतुलित समीक्षा प्रदान करते हैं। फ़ॉरेक्स ट्रेडिंग बहुत मजेदार हो सकता है, लेकिन यह एक बड़े जोखिम वाले सौदे के साथ आता है। सम्बंधित तमाम अच्छे और बुरे पहलुओं का बारीक विश्लेषण करते हुए अगर बेस्ट ब्रोकर चुनने में आपकी मदद कर पाए, तो हम अपने लक्ष्य में सफल होंगे।

भारतीय ट्रेडरों के लिए बेहतरीन फोरेक्स ट्रेडिंग ब्रोकर

आप फोरेक्स में ट्रेडिंग कैसे करते हैं?

विदेशी मुद्रा बाजार (Foreign Exchange Market) या फोरेक्स मार्केट, दुनिया का सबसे बड़ा फाइनेंसियल मार्केट है, और हफ़्ते में 5 दिन यह 24 घंटे प्रभावी रूप से खुला रहता है। विदेशी मुद्रा कारोबार इस एकमात्र ग्लोबल करेंसी मार्केट में मुद्राओं की खरीद और बिक्री है। यहाँ सबसे छोटे रिटेल फोरेक्स ट्रेडर से लेकर सबसे बड़े बैंकों में से हर कोई प्रॉफिट कमाने के लिए मुद्राओं को खरीद-बेच रहा है।

CFD ट्रेडिंग की तरह यहाँ एक ट्रेडर कभी भी मुद्रा पर स्वामित्व नहीं हासिल करता। इसके बजाए, एक विदेशी मुद्रा कारोबारी मुद्रा के घटते-बढ़ते मूल्य के आधार पर लॉन्ग और शार्ट नाम की रणनीतिक प्रक्रिया में अनुमान लगाता है। फोरेक्स ट्रेडर किसी करेंसी को खरीदकर और बाद में उसके मूल्य में बदलाव आने पर उसे बेचकर प्रॉफिट कमाता है। अगर ट्रेडर ने गलत अनुमान लगाया, तो उसे ट्रेड में नुकसान हो सकता है।

विदेशी मुद्रा व्यापार में, मुद्राओं के जोड़े (करेंसी पेयर) के साथ कारोबार होता है। एक अकेली करेंसी या मुद्रा का मूल्य हमेशा ही किसी दूसरी मुद्रा के मूल्य के सापेक्ष (रिलेटिव) में होता है। इसलिए जब आप एक मुद्रा खरीदते हैं, तो इसका मतलब यह हुआ कि आप इस मुद्रा-जोड़े में मौजूद दूसरी मुद्रा को बेच भी रहे हैं। करेंसी-पेयर को तीन ग्रुप में बांटा जाता है, यह इस पर आधारित है कि वे कारोबार में कितने लोकप्रिय हैं। उन्हें मेजर, माइनर और एक्जोटिक्स (Majors, Minors, Exotics) कहा जाता है। कारोबार में सबसे पॉपुलर जोड़े में से एक है यूरो और यूएसडी यानी यूएसडी-यूरो (USDEUR)।

बाजार में किसी भी दूसरे प्रोडक्ट से जुड़ी खरीद-बिक्री की तरह ही, फोरेक्स ट्रेडिंग में हर चीज का सम्बन्ध आपूर्ति और मांग के साथ है। यदि हम एक मुद्रा बेचने जा रहे हैं, तो वहाँ कोई दूसरा भी होना चाहिए, या एक प्रतिपक्ष होना चाहिए, जो उसे खरीदने का इच्छुक हो। विदेशी मुद्रा व्यापार में, इसे लिक्विडिटी के रूप में जाना जाता है, और ट्रेड में कोई करेंसी जितनी ज्यादा लोकप्रिय होगी, उतनी ही ज्यादा लिक्विडिटी उपलब्ध होगी।

विदेशी मुद्रा कारोबार कैसे काम करता है, इसे अधिक समझने के लिए, हमने एक लेख पेश किया है जो इन मुद्दों की थोड़ी अधिक गहराई में जाता है, और हमारे पास एक प्रशिक्षण सेक्शन है जो आपको अन्य सभी सवालों के मामले में मदद करेगा।

फोरेक्स ट्रेड सीखें

फोरेक्स ट्रेड सीखना मुश्किल हो सकता है, लेकिन आप अकेले नहीं हैं। आसानी से इसकी शुरुआत करने में आपको कामयाब बनाने के लिए हमने पहला कदम उठाने से जुड़े कुछ लेखों को पेश किया है। ट्रेडिंग की ज्यादातर बारीकियां इसे करने से ही समझ में आती हैं। एक बार जब आप मूल बातें समझ लेंगे, जिसमें ख़ास टूल्स का उपयोग करना और अपनी खुद की एनालिसिस करना शामिल हैं, तो आप यह समझना शुरू कर देंगे कि इस पूरी प्रक्रिया में क्या कुछ करना है। इसलिए, जैसे ही आप अपना ब्रोकर चुन लें, निम्नलिखित लेख पढ़ें।

शुरुआत करने के लिए रिसोर्स

कामयाबी के साथ फोरेक्स ट्रेड कैसे करें

  • हमारी वेबसाइट पर अपनी सहूलियत के हिसाब से ब्रोकर चुनें।
  • ब्रोकर की वेबसाइट पर अपना नाम और फोन नंबर प्रदान करके अकाउंट खोलें।
  • ब्रोकर आपको कॉल करेगा यह देखने के लिए कि आप सर्वश्रेष्ठ शुरुआत कैसे कर सकते हैं।
  • आवश्यक दस्तावेज प्रदान करके अपनी पहचान और व्यक्तिगत ब्यौरे सत्यापित करें।
  • ट्रेडिंग शुरू करने और प्रशिक्षण सामग्री तक पहुँचने के लिए अपनी आरंभिक डिपाजिट जमा करें।

.

 

फीचर्ड सेक्शन

डेमो अकाउंट

किसी नए ट्रेडर के लिए किसी भी पूंजी का जोखिम उठाये बिना एक ब्रोकर को आजमाने का एक अच्छा तरीका डेमो अकाउंट खोलना है। डेमो अकाउंट में अक्सर ब्रोकर से अपेक्षा की जाने वाली सभी सुविधाएं होती हैं, और एमटी4 या ब्रोकर के अपने सॉफ़्टवेयर या ऐप्स के साथ ट्रेड करने का अच्छा अनुभव देता है। और पढ़ें।

क्रिप्टोकरेंसी कारोबार (CRYPTOCURRENCY TRADING)

बिटकॉइन और ईथरियम जैसे क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेड करना चाहते हैं? ये बहुत लोकप्रिय हो गए हैं और उन लोगों के लिए अच्छे ट्रेड हैं जो टेक्नीकल एनालिसिस और चार्ट को एन्जॉय करते हैं। सबसे अच्छे ब्रोकर ये रहे जो इन एसेट्स की पेशकश करते हैं। और पढ़ें।

फोरेक्स ट्रेडिंग ऐप्स

कुछ फोरेक्स ट्रेडिंग ऐप्स ऊँची गुणवत्ता वाले हैं और ट्रेडिंग, मूल्य की बोली लगाने और एनालिसिस के लिए उपयोग किए जा सकते हैं। शानदार मोबाइल ऐप्स वाले ब्रोकरों की एक सूची यहां दी गई है जिससे आप सफ़र में भी व्यापार कर पायें। और पढ़ें।

फोरेक्स ब्रोकरों की तुलना कैसे करें?

ट्रेडरों के लिए बहुत से फोरेक्स ब्रोकर उपलब्ध हैं, लेकिन ये सुझाव आपको उनमें सर्वश्रेष्ठ को खोजने में मददगार हो सकते हैं।

  • रेगुलेशन – सुनिश्चित करें कि ब्रोकर एक सम्मानित रेगुलेटर द्वारा नियंत्रित किया जाता है। इसके बारे में यहां और पढ़ें।
  • टाइट स्प्रैड्स – स्प्रैड्स के जरिये ही अधिकांश ब्रोकर पैसा बनाते हैं। यह खरीद और बिक्री मूल्य के बीच का अंतर है। एक अच्छा ब्रोकर खरीद/बिक्री के मूल्य को काफी करीब रखेगा, जिसका मतलब है, आपके लिए ट्रेड पर प्रॉफिट कमाना आसान रहेगा।
  • प्लेटफ़ॉर्म – क्या आपके पसंदीदा सॉफ़्टवेयर प्लेटफ़ॉर्म के साथ ब्रोकर का कोई कनेक्शन है। इसका एक उदाहरण यह है कि ब्रोकर MetaTrader को सपोर्ट करता है।
  • अपने पैसे तक आपकी पहुंच – उन स्थितियों की जांच करें जिनके जरिये आप अपना पैसा वापस ले सकते हैं। एक अच्छा ब्रोकर आपकी धन निकासी के अनुरोध को उसी कारोबारी दिन में प्रोसेस करेगा।

ब्रोकरों की तुलना में क्या महत्वपूर्ण नहीं है?

यह भले ही विवादास्पद लग सकता है, मैं ब्रोकर का मूल्यांकन करते समय अकाउंट शुरू करने के लिए आवश्यक न्यूनतम डिपाजिट को उतना अहम नहीं समझता। अब आप सोच रहे हैं – मेरे पास खाते में रखने के लिए 3000 रैंड नहीं हैं – और यह मान्य और सत्य हो सकता है। लेकिन हम यह नहीं कह सकते, कि ब्रोकर खराब है क्योंकि उन्हें अकाउंट खोलने के लिए उस राशि की ज़रूरत होती है।

निवेश के लिए एक ट्रेडिंग अकाउंट में कुछ पैसा होना चाहिए। और चूंकि फोरेक्स ट्रेडिंग CFD ट्रेडिंग है, जो लीवरेज का उपयोग करता है, और ऐसे हालात में यदि हमारा लीवरेज ट्रेड हमारी पोजीशन के खिलाफ चला जाए तो हमें अपने खाते में उतनी पूंजी की ज़रूरत होती है।

तो जितना भी मुश्किल लगे, खाता शुरू करने के लिए ज़रूरी न्यूनतम डिपाजिट के आधार पर एक अच्छे ब्रोकर की तुलना किसी खराब ब्रोकर से न करें।

फोरेक्स ट्रेड कैसा होता है?

फोरेक्स ट्रेडर समय के साथ मुद्रा-दर में आने वाले बदलावों के तरीके पर निगाह रखते हुए अपना ज्यादातर वक्त बिताते हैं। यह हमेशा एक करेंसी की किसी दूसरी मुद्रा से तुलना करते हुए एक प्रक्रिया के तहत किया जाता है, जिसे पेयरिंग (pairing) कहते हैं। नीचे उदहारण के लिए एक ट्रेडिंग का ब्यौरा दिया जा रहा है, जो USD/ZAR पेयर का है, और इस ट्रेड का नतीजा भी।

फोरेक्स ट्रेडिंग का एक उदाहरण

नए लोगों को समझने में मदद करने के लिए एक उदाहरण अक्सर सबसे अच्छा होता है कि फोरेक्स ट्रेडिंग क्या है और ट्रेडर अपने काम तक कैसे पहुंचते हैं।

हर दो महीने के अंतराल पर साउथ अफ्रीकी रिजर्व बैंक (SARB) की दक्षिण अफ़्रीकी मौद्रिक नीति समिति मुद्रा नीति को निर्धारित और समायोजित करने के लिए बैठती है। एक ट्रेडर के रूप में, आप इस मीटिंग में नीति में बदलाव किये जाने की उम्मीद करते हैं। आप उम्मीद करते हैं कि 2 बजे जारी की जाने वाली प्रेस विज्ञप्ति ब्याज दरों में कमी लाएगी। पिछले 2 तिमाहियों से इस बदलाव की उम्मीद थी, लेकिन इस पर अमल नहीं किया गया था।

ठीक 2 बजे से पहले, आप 1:50 लीवरेज के साथ 170 USD के लिए एक ऑर्डर पेश करते हैं, जो एक ट्रेडर को $8500 ((170 USD x लीवरेज) का निवेश करने का मौका देता है। तर्क के लिए, हम कह सकते हैं कि यह 1 स्टैंडर्ड लॉट है। आप 11.6927 पर खरीदारी करते हैं और बाजार पर निगाह रखते हैं।

प्रेस विज्ञप्ति जारी किये जाने के समय पर, एमपीसी ब्याज दरों को कम कर देती है जैसा कि आपको उम्मीद थी और बाजार आगे बढ़ने लगता है। जब आप 11.7685 पर बेचने का फैसला करते हैं, तो आप 15 मिनट के लिए अपने व्यापार की निगरानी करने का फैसला करते हैं। इस ट्रेड का परिणाम – आप 641 USD का प्रॉफिट कमाते हैं।

Trade Forex Example

The USDZAR moves following a Monetary Policy Committee Meeting of the SA Reserve Bank in March 2018

क्या ट्रेडरों के पास फोरेक्स ट्रेड करने के लिए टूल्स हैं?

फोरेक्स ट्रेडिंग में सहायता करने के लिए बहुत से टूल हैं। उनमें से अधिकतर प्लेटफ़ॉर्म में पहले से ही शामिल हो चुके हैं जिनका उपयोग आप ब्रोकर के साथ साइन अप करते समय करते हैं, लेकिन दूसरे अच्छे सॉफ़्टवेयर भी हैं जो आपके लिए वाकई मददगार हो सकते हैं और आपको अपने कारोबार में अतिरिक्त बढ़त दे सकते हैं।

हम इस तरह के सॉफ्टवेयर की सुविधा देते हैं, क्योंकि हम मानते हैं कि पाठकों के लिए वे बहुत मूल्यवान हैं। FormationSeeker  ऐसे औजारों का एक उदाहरण हैं जो कारोबारियों को ट्रेड में हार्मोनिक पैटर्न की पहचान करने में मदद करते हैं और प्रॉफिट के अवसरों और और नुकसानदेह हालात को हाइलाइट करते हैं, जो बैंकों की ट्रेडिंग को पूरे पारदर्शी बना देता है और इस तरह मार्केट का पूर्वानुमान करना आसान बनाता है। सभी फोरेक्स एनालिसिस टूल्स के विस्तृत रिव्यू के लिए आप हमारे लेख यहाँ पढ़ सकते हैं।

क्या मेरे लिए फोरेक्स ट्रेडिंग सही है?

ऊपर इस बात का एक अच्छा ब्यौरा है कि फोर्रेक्स ट्रेडिंग से आप क्या उम्मीद कर सकते हैं। अब तक आपको मालूम हो गया होगा कि इसमें हाई रिस्क है, आपको एक ब्रोकर ढूँढना होगा जो आपकी ज़रूरतों पर खरा हो, और आपको उस धनराशि की जानकारी होनी चाहिए जो आप ब्रोकर के पास अपने अकाउंट में रखना चाहते हैं। फोरेक्स ट्रेडिंग जानने और सीखने में कमिटमेंट की मांग करता है, और आपको इसके लिए तैयार होना चाहिए:

  • आपके लिए जो सर्वोत्तम है, उसे पाने के लिए दलालों की तुलना करें।
  • हमारे प्रशिक्षण खंड की रिसोर्स को पढ़ें और जितना भी आप सीख सकते हैं सीख लें।
  • FX मार्केट और CFD ट्रेडिंग की कार्य प्रणाली को समझें।
  • ऐसे सॉफ़्टवेयर और टूल को चलाना सीखें जो आपके व्यापार में सहायक होंगे।
  • अकाउंट में रखे गए सभी पैसे को खोने के लिए तैयार रहें। ऐसी किसी भी धनराशि को जमा न करें जिसका नुकसान आप नहीं उठा सकते।
Trading Forex and CFDs is not suitable for all investors and comes with a high risk of losing money rapidly due to leverage. 75-90% of retail investors lose money trading these products. You should consider whether you understand how CFDs work and whether you can afford to take the high risk of losing your money.
+ +